Latest Update पाने के लिए हमे Follow करे

110+ Atrocities Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन

पढ़े क्रूरता या अत्याचार पर महापुरुषों, महान व्यक्तिओं के द्वारा कही गये सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन जो आपको इनके विरुद्ध लड़ने में सहायता करेगा।

Atrocities Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन

Atrocities  Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन

अत्याचार, जो किसी भी समाज के लिए एक गंभीर और संवेदनशील मुद्दा है, मानवता को गहरे जख्म देता है। यह न केवल व्यक्तिगत रूप से प्रभावित करता है बल्कि समूचे समाज को भी पीड़ा पहुंचाता है। दुनिया के इतिहास अत्याचारों से भरा पड़ा है। निर्दोषों पर जुल्म, हिंसा और अत्याचार सदियों से मानवता को कलंकित करते आ रहे हैं। दुष्कर्म, अन्याय, और अत्याचार इंसानी समाज के लिए एक अंतर्निहित खतरा हैं। ये विषय हर समय, हर समाज में मौजूद रहते हैं और उनसे लड़ना हर व्यक्ति की जिम्मेदारी है।

अत्याचार, हिंसा और अन्याय ने हमेशा मानवता को आहत किया है और इसके खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए कई महान व्यक्तित्वों ने अपनी बात रखी है। इन उद्धरणों ने न केवल जागरूकता बढ़ाई है बल्कि लोगों को अन्याय के खिलाफ लड़ने के लिए प्रेरित भी किया है। यहां प्रस्तुत हैं उद्धरण जो अत्याचारों के विभिन्न पहलुओं को उजागर करते हैं। अत्याचार के विरुद्ध जागरूकता और इसके खिलाफ लड़ाई में उद्धरण एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। यहाँ अत्याचार उद्धरण प्रस्तुत किए जा रहे हैं जो आपको विचार करने और संघर्ष के लिए प्रेरित करेंगे

क्रूरता या अत्याचार से जुड़े पांच प्रसिद्ध भारतीय कथन

"अत्याचार सहना भी एक प्रकार का अपराध है" - महात्मा गांधी: यह उद्धरण स्पष्ट करता है कि अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाना हमारा कर्तव्य है।

"बुरा जो देखे सहे न ताहि को नेकी" - तुलसीदास: समाज में हो रहे अत्याचार को चुपचाप सहना ठीक नहीं है। हमें ऐसे कृत्यों का विरोध करना चाहिए।

"जहां होते हैं अत्याचार, वहां विद्रोह का अधिकार" - भगत सिंह: यह शक्तिशाली उद्धरण क्रांतिकारी भगत सिंह का है। यह बताता है कि जब अत्याचार चरम पर होता है, तो विद्रोह करना न केवल सही है, बल्कि कर्तव्य भी बन जाता है।

"अत्याचार का विरोध न करने से, समाज भी अपराधी होता है" - मुंशी प्रेमचंद: प्रेमचंद जी हमें समाज के दायित्व की याद दिलाते हैं। यदि हम अत्याचार को अनदेखा करते हैं, तो समाज भी उतना ही दोषी है।

"जब अत्याचार सहना पड़े, तो मरना भी श्रेष्ठ है" - सुभाष चंद्र बोस: नेताजी सुभाष चंद्र बोस का यह उद्धरण बताता है कि कभी-कभी अत्याचार के आगे झुकने से मृत्यु गौरवशाली मानी जाती है।

क्रूरता या अत्याचार पर आधारित Videos

क्रूरता या अत्याचार से जुड़े प्रसिद्ध कथन

ऐसे अंधकारमय समय में साहित्य और कवियों के शब्द एक ज्योति बनकर उभरे हैं। आइए, आज हम कुछ चुनिंदा हिंदी उद्धरणों के माध्यम से अत्याचारों के खिलाफ आवाज उठाएं और एक न्यायपूर्ण समाज के निर्माण का संकल्प लें।

1-10

"अत्याचार को समाप्त करने के लिए साहस की आवश्यकता होती है।" - नेल्सन मंडेला

"अत्याचार की अनुमति देने वाला, अत्याचारी से कम दोषी नहीं है।" - महात्मा गांधी

"जहाँ अन्याय है, वहाँ विरोध भी होना चाहिए।" - अन्ना हजारे

"अत्याचार को सहने वाला, उससे भी बड़ा अपराधी है।" - भगत सिंह

"सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलने वाला ही असली योद्धा है।" - विनोबा भावे

"अत्याचार की जड़ें गहरी होती हैं, लेकिन प्रेम और करुणा की शक्ति से उन्हें उखाड़ा जा सकता है।" - मदर टेरेसा

"समानता का मतलब यह नहीं कि अत्याचार समाप्त हो जाएगा, बल्कि यह कि न्याय स्थापित हो।" - डॉ. भीमराव अंबेडकर

"अत्याचार का विरोध करना हर व्यक्ति का धर्म है।" - स्वामी विवेकानंद

"शांति तब तक नहीं हो सकती जब तक अत्याचार का अंत न हो।" - नेल्सन मंडेला

"सत्य और न्याय के लिए लड़ाई हर युग में चलती रहनी चाहिए।" - जयप्रकाश नारायण

11-20

"अत्याचार सहन करना भी एक प्रकार का अपराध है।" - जवाहरलाल नेहरू

"अत्याचार का अंत तभी होगा जब लोग इसके खिलाफ खड़े होंगे।" - ख्वाजा मुईनुद्दीन चिश्ती

"अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना ही सच्ची मानवता है।" - रवींद्रनाथ ठाकुर

"अत्याचार और अन्याय के खिलाफ खड़ा होना हर इंसान का फर्ज है।" - सुभाष चंद्र बोस

"जिन्हें न्याय का महत्व समझ में आता है, वे ही अत्याचार के खिलाफ संघर्ष कर सकते हैं।" - बाल गंगाधर तिलक

"अत्याचार सहना और चुप रहना, दोनों ही आत्मा के लिए घातक हैं।" - रामप्रसाद बिस्मिल

"दुनिया में अत्याचार तब बढ़ता है जब अच्छे लोग चुप रहते हैं।" - मार्टिन लूथर किंग जूनियर

"अत्याचार का अंत करने के लिए हमें एकजुट होना होगा।" - सरदार वल्लभभाई पटेल

"शांति और न्याय के बिना सच्चा समाज नहीं बन सकता।" - कस्तूरबा गांधी

"साहस और धैर्य से अत्याचार का मुकाबला करना चाहिए।" - लाला लाजपत राय

21-30

"अत्याचार के खिलाफ संघर्ष ही सच्ची देशभक्ति है।" - मदन मोहन मालवीय

"अत्याचार को सहना भी एक प्रकार की हिंसा है।" - डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन

"अत्याचार और अन्याय के खिलाफ लड़ाई में हमें कभी हार नहीं माननी चाहिए।" - मेजर ध्यानचंद

"अत्याचार के खिलाफ खड़ा होना ही सच्ची मानवता है।" - कमला नेहरू

"अत्याचार सहन करने वाला भी उतना ही दोषी है जितना अत्याचारी।" - जॉन एफ. केनेडी

"जब अत्याचार हद से बढ़ जाए, तो उसका अंत भी निकट होता है।" - चाणक्य

"अन्याय के खिलाफ खड़े होना ही सच्चे मानव का कर्तव्य है।" - विवेकानंद

"अत्याचार की आग में जलने वाला कभी शांत नहीं रह सकता।" - कबीर

"दमन के खिलाफ उठी आवाज ही क्रांति की नींव रखती है।" - भगत सिंह

"अत्याचार सहन करने वाला समाज कभी प्रगति नहीं कर सकता।" - राजगुरु

31-40

"अत्याचार का अंत तभी संभव है जब हम एकजुट होकर लड़ें।" - सुखदेव

"अत्याचार के खिलाफ लड़ाई में कोई भी योगदान छोटा नहीं होता।" - बीना दास

"अत्याचार के खिलाफ आवाज उठाना ही सच्ची सेवा है।" - रामकृष्ण परमहंस

"अत्याचार का मुकाबला करने के लिए साहस और संयम आवश्यक हैं।" - सावित्रीबाई फुले

"अत्याचार सहना भी एक प्रकार का पाप है।" - अटल बिहारी वाजपेयी

"दमन का सामना करने के लिए हमें एकजुट रहना होगा।" - राजेंद्र प्रसाद

"अत्याचार का अंत तभी होगा जब लोग इसके खिलाफ खड़े होंगे।" - श्यामा प्रसाद मुखर्जी

"अत्याचार के खिलाफ संघर्ष में हर कदम महत्वपूर्ण है।" - शहीद उधम सिंह

"अत्याचार को सहन करना उसे बढ़ावा देना है।" - इंदिरा गांधी

"अत्याचार के खिलाफ खड़ा होना ही सच्ची मानवता है।" - महादेवी वर्मा

41-50

"अत्याचार सहन करना आत्मा को कमजोर बनाता है।" - पंडित नेहरू

"अत्याचार को सहना भी एक प्रकार का अपराध है।" - लाल बहादुर शास्त्री

"अत्याचार का अंत तभी होगा जब हम एकजुट होकर लड़ेंगे।" - वल्लभभाई पटेल

"अत्याचार के खिलाफ खड़ा होना ही सच्ची देशभक्ति है।" - बिपिन चंद्र पाल

"दमन के खिलाफ आवाज उठाना ही सच्ची सेवा है।" - रानी लक्ष्मीबाई

"अत्याचार सहन करना एक प्रकार का पाप है।" - दयानंद सरस्वती

"अत्याचार के खिलाफ लड़ाई में हमें कभी हार नहीं माननी चाहिए।" - बाल गंगाधर तिलक

"अत्याचार का अंत तभी होगा जब हम एकजुट होकर लड़ेंगे।" - कस्तूरबा गांधी

"सत्य और अहिंसा के रास्ते पर चलना ही सच्ची मानवता है।" - महात्मा गांधी

"अत्याचार का विरोध करना हर व्यक्ति का धर्म है।" - स्वामी विवेकानंद

51-60

"अत्याचार सहन करना आत्मा के लिए घातक है।" - रामप्रसाद बिस्मिल

"क्रूरता का अंत हमेशा दुखद होता है।" - लियो टॉलस्टॉय

"क्रूरता का सामना करने के लिए साहस की आवश्यकता होती है।" - चार्ल्स डार्विन

"अत्याचार का अंतिम परिणाम हमेशा समाज की स्वतंत्रता का विनाश होता है।" - नेल्सन मंडेला

"जब तक लोग अत्याचार को देखते हैं और चुप रहते हैं, तब तक वो दुष्कर्म के सहयोगी बन जाते हैं।" - डेस्मंड ट्यूटू

"अन्याय के खिलाफ आवाज उठाना हमारा कर्तव्य है, क्योंकि अन्याय जब तक हम उसके खिलाफ नहीं खड़े होते, तब तक वह जीत रहा है।" - एडलै एस्टिन

"जब लोग बुराई को देखते हैं और चुप रहते हैं, तब वे बुराई के साथी बन जाते हैं।" - एल्बर्ट एइंस्टीन

"अन्याय के खिलाफ खड़ा होना ही विजय है।" - डेस्मंड ट्यूटू

"जहाँ अन्याय है, वहाँ अत्याचार की छाया हमेशा रहती है।"

"अत्याचार का अंत तभी होता है जब हम उसके खिलाफ खड़े होते हैं।"

61-70

"सत्य और न्याय के मार्ग पर चलना ही अत्याचार का सही उत्तर है।"

"जो लोग आपको बेतुकी बातों पर यकीन दिला सकते हैं, वे आपसे अत्याचार भी करवा सकते हैं।” - वॉल्टेयर

"हम अपने कार्यों से मनुष्य होने के योग्य नहीं हैं, लेकिन हम अपनी कमज़ोरियों और पीड़ा के माध्यम से निश्चित रूप से साबित होते हैं!" - रमना पेम्माराजू

“अत्याचार के खिलाफ़ खड़े होने के लिए एक बहादुर ढाल बनो।अगर तुम नहीं, तो और कौन उस कर्तव्य को मेरा कहेगा”- अभिजीत नस्कर

“अपने वचन पर अडिग रहने के लिए और बेतुके काम करने वाली दुष्ट भीड़ के खिलाफ खड़े होने के लिए पर्याप्त अहंकार रखें।” - क्रिस जैमी

“जब आप इंसान होते हैं तो अत्याचार जीवन का एक तरीका है।”- एंथनी टी. हिंक्स

"जब आप बेतुकी बातों पर विश्वास करते हैं, तो आपके लिए अत्याचार करना बहुत आसान हो जाएगा।" - चिडी अजगबा

“लोग हमें परखने और विभाजित करने आएंगे, लेकिन जब तक हम दूसरों के लिए अपने दिल में करुणा रखेंगे, वे जीत नहीं पाएंगे।”- स्टीवर्ट स्टैफ़ोर्ड

"क्रूरता को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है उसे पहचानना।" - जॉन स्टुअर्ट मिल

"क्रूरता का जवाब हमेशा प्रेम से देना चाहिए।" - मदर टेरेसा

71-80

"अज्ञानता से उत्पन्न गलतफहमी भय को जन्म देती है, और भय शांति का सबसे बड़ा दुश्मन बना रहता है।"– लेस्टर बी. पियर्सन

"सहिष्णुता के अभ्यास में, व्यक्ति का शत्रु ही सबसे अच्छा शिक्षक होता है।"- दलाई लामा

"क्रूरता का सबसे बड़ा दुश्मन है करुणा।" - महात्मा गांधी

"जहाँ प्रेम है, वहाँ क्रूरता का कोई स्थान नहीं।" - रवींद्रनाथ टैगोर

"क्रूरता के खिलाफ मौन सबसे बड़ा पाप है।" - एल्बर्ट आइंस्टीन

"क्रूरता एक ऐसा हथियार है जो इंसानियत को चोट पहुंचाता है।" - मार्टिन लूथर किंग जूनियर

"क्रूरता का जवाब हमेशा सहानुभूति से दिया जाना चाहिए।" - नेल्सन मंडेला

"क्रूरता वह अंधेरा है जिसमें प्रकाश की एक किरण भी नहीं पहुंचती।" - मदर टेरेसा

"क्रूरता की जड़ें हमेशा असत्य में होती हैं।" - चाणक्य

"क्रूरता का सबसे बड़ा शिकार वह व्यक्ति होता है जो इसे अपनाता है।" - ओशो

81-90

"कभी-कभी क्रूरता भी एक प्रकार की कमजोरी होती है।" - खलील जिब्रान

"क्रूरता और सहानुभूति एक साथ नहीं रह सकते।" - जोर्ज बर्नार्ड शॉ

"क्रूरता का सामना करने के लिए साहस की जरूरत होती है।" - एलेनोर रूजवेल्ट

"क्रूरता का अंत हमेशा दुखद होता है।" - विलियम शेक्सपियर

"क्रूरता का मुकाबला केवल प्रेम से किया जा सकता है।" - जॉन लेनन

"जहाँ अज्ञानता है, वहाँ क्रूरता भी होती है।" - अरस्तु

"क्रूरता की आग में इंसानियत जलती है।" - पंडित जवाहरलाल नेहरू

"क्रूरता और प्रेम का संघर्ष अनंत काल से चल रहा है।" - फ्रेडरिक नीत्शे

"क्रूरता का सामना करने के लिए सत्य का बल चाहिए।" - स्वामी विवेकानंद

"क्रूरता के खिलाफ आवाज उठाना हमारा कर्तव्य है।" - इंदिरा गांधी

91-100

"क्रूरता को खत्म करने का सबसे अच्छा तरीका है शिक्षा।" - डॉ. ए.पी.जे. अब्दुल कलाम

"क्रूरता एक प्रकार की नैतिक दिवालियापन है।" - रवीश कुमार

"क्रूरता का सबसे बड़ा दुश्मन है इंसानियत।" - अन्ना हजारे

"क्रूरता का सामना करना ही सच्चा साहस है।" - भगत सिंह

"क्रूरता से बचना ही सच्चा ज्ञान है।" - संत कबीर

"क्रूरता का कोई धर्म नहीं होता।" - डॉ. भीमराव अंबेडकर

"क्रूरता का अंत प्रेम से ही होता है।" - स्वामी रामकृष्ण परमहंस

"क्रूरता की जड़ें हमेशा नफरत में होती हैं।" - महात्मा बुद्ध

"क्रूरता का जवाब हमेशा अहिंसा से दिया जाना चाहिए।" - महात्मा गांधी

"क्रूरता और न्याय का कोई मेल नहीं है।" - टी.एस. एलियट

101-110

"क्रूरता का मुकाबला केवल सत्य से किया जा सकता है।" - सत्यजीत रे

"क्रूरता और निर्दयता एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।" - प्रेमचंद

"क्रूरता का सामना करने के लिए हमें अपने भीतर की शक्ति को पहचानना होगा।" - इंदिरा नुई

"क्रूरता को रोकने का सबसे अच्छा तरीका है उसे पहचानना।" - जॉन स्टुअर्ट मिल

"क्रूरता का जवाब हमेशा प्रेम से देना चाहिए।" - मदर टेरेसा

"क्रूरता का अंत हमेशा दुखद होता है।" - लियो टॉलस्टॉय

"क्रूरता का सामना करने के लिए साहस की आवश्यकता होती है।" - चार्ल्स डार्विन

"जहाँ प्रेम है, वहाँ जीवन है।" - महात्मा गांधी

"क्रूरता और निर्दयता एक ही सिक्के के दो पहलू हैं।" - प्रेमचंद

"जो आप नहीं समझते उससे नफरत मत करो।" -जॉन लेनन

111-118

"एक बार जब हमें अत्याचारों के बारे में पता चल जाता है तो हम चुप नहीं रह सकते, और जानकारी के बाद बेगुनाहों की रक्षा करने की इच्छा पैदा होती है।" - अज़र नफ़ीसी

"हमेशा ऐसे लोग मौजूद रहते हैं जो थोड़ी शक्ति और विशेषाधिकार के बदले में अकल्पनीय मानवीय अत्याचार करने को तैयार रहते हैं।" - क्रिस हेजेज 

"जो आपको किसी बेतुकी बात पर विश्वास करने के लिए प्रेरित कर सकता है, वह आपको अत्याचार करने के लिए भी प्रेरित कर सकता है।" - वोल्टेयर 

"अत्याचार कभी भी अतीत को संतुलित या सुधार नहीं सकता। अत्याचार केवल भविष्य को और अधिक अत्याचार के लिए तैयार करता है।" - फ्रैंक हर्बर्ट 

"जब तक लोग बेतुकी बातों पर विश्वास करते रहेंगे, वे अत्याचार करते रहेंगे।" -वोल्टेयर  

"आँख के बदले आँख पूरी दुनिया को अंधा बना देगी।" -महात्मा गांधी

"अज्ञानता से उत्पन्न गलतफहमी भय को जन्म देती है, और भय शांति का सबसे बड़ा दुश्मन बना रहता है।" – लेस्टर बी. पियर्सन

"सहिष्णुता के अभ्यास में, व्यक्ति का शत्रु ही सबसे अच्छा शिक्षक होता है।"- दलाई लामा 

Atrocities Quotes Photos, Pics, Images, Pictures

Atrocities  Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन
Atrocities  Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन
Atrocities  Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन
Atrocities  Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन
Atrocities  Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन
Reference

निष्कर्ष (Conclusion)

इन उद्धरणों के अतिरिक्त, हिंदी साहित्य में अत्याचारों के खिलाफ संघर्ष के कई उदाहरण मिलते हैं. रानी लक्ष्मीबाई का झांसी का किला बचाने का प्रयास, चंद्रशेखर आजाद की क्रांतिकारी गतिविधियां, महात्मा गांधी का सत्याग्रह - ये सभी अत्याचार के खिलाफ लड़ाई के प्रतीक हैं।

यह लेख केवल उद्धरणों तक सीमित नहीं है। हमें अत्याचार के खिलाफ लड़ाई को अपने जीवन में भी अपनाना चाहिए। किसी को असहाय देखकर चुप रहने के बजाय आवाज उठाना, कानून का सहारा लेना, सामाजिक सरोकारों से जुड़ना - ये सभी छोटे कदम मिलकर एक बड़े बदलाव की शुरुआत कर सकते हैं।

अंत में, याद रखें कि अत्याचार कितना भी ताकतवर क्यों न हो, सत्य और न्याय की ज्योति उसे मिटाकर ही दम लेती है। आइए, हम सब मिलकर अत्याचारों को जड़ से मिटाने का संकल्प लें।

आपको क्रूरता या अत्याचार से जुड़ा उद्धरणों से आप अवश्य ही प्रेरित होगे। उम्मीद है कि आपको यह "Atrocities Quotes in Hindi | क्रूरता या अत्याचार पर सर्वश्रेष्ठ सुविचार, अनमोल वचन"लेख अच्छा लगा होगा। अपने प्रियजनों के साथ Social Media में शेयर करे।

इन्हें भी पढ़े

टिप्पणियाँ

2gudhindi telegram channel
Latest Update पाने के लिए Join करे

लोकप्रिय पोस्ट